AAj Tak Ki News :बेसबब: गांव की युवती को कोठे पर देख हैरान रह गया युवक

आप स्टूडेंट्स है ज्वाइन करे

AAj Tak Ki News :बेसबब: गांव की युवती को कोठे पर देख हैरान रह गया युवक , मेरठ का कबाड़ी बाजार या रेड लाइट एरिया एक ऐसी जगह जिसके नाम मात्र से ही आज भी लोग मुहं फेरने लगते हैं। एक ऐसी जगह जहां न जाने कितनी ही मासूम लड़कियों की जिंदगियां देह व्यापार के काले दलदल में धकेल दी जाती थी। तंग कमरों में बंद ये जिंदगियां गुमनाम अंधेरे के बीच कब खत्म हो जाती हैं पता भी नहीं चलता।

LIVE NEWS UPDATES TODAY : बेसबब>> गांव की युवती को कोठे पर देख हैरान रह गया युवक, प्यार में देह ,एक ऐसी जगह जहां न जाने कितनी ही मासूम लड़कियों की जिंदगियां देह व्यापार के काले , मासूम लड़कियों की जिंदगियां देह व्यापार के काले दलदल में धकेल दी जाती थी। तंग कमरों में बंद ये जिंदगियां गुमनाम अंधेरे के बीच कब खत्म हो जाती हैं पता भी नहीं चलता।

गांव की युवती को कोठे पर देख हैरान रह गया युवक, प्यार में देह व्यापार के दलदल से निकाली प्रेमिका, दिल छूं लेंगी ये कहानियां

हाईकोर्ट के आदेश पर तीन साल पहले इस क्षेत्र में चल रहे कोठों पर पुलिस ने ताला जड़ दिया। यहां अब देहव्यापार भले ही न होता हो लेकिन इलाके में बंद पड़े इन भवनों में कई ऐसी कहानियां कैद हैं जो इस जगह की जिल्लत भरी जिंदगी की दास्ताना बयान करती हैं। पुलिस ने जब-जब यहां कार्रवाई की तब ही वेश्यावृति का घिनौना सच सामने आता।दूसरे प्रदेशों से लड़कियों का अपहरण कर या खरीदकर उन्हें देह व्यापार के कारोबार में झोंक दिया जाता था। पुलिस यहां से कई ऐसी ही लड़कियों को रेस्क्यू भी कराया। वहीं कई ऐसे किस्से भी सामने आए जब देह व्यापार में लिप्त महिलाओं की आपबीती सुन हर कोई हैरान रह गया।

आइए नजर डालते हैं ऐसी ही कहानियों पर जिनकी हकीकत किसी को भी रुला सकती है: –

मेरठ का कबाड़ी बाजार या रेड लाइट एरिया एक ऐसी जगह जिसके नाम मात्र से ही आज भी लोग मुहं फेरने लगते हैं। एक ऐसी जगह जहां न जाने कितनी ही मासूम लड़कियों की जिंदगियां देह व्यापार के काले दलदल में धकेल दी जाती थी। तंग कमरों में बंद ये जिंदगियां गुमनाम अंधेरे के बीच कब खत्म हो जाती हैं पता भी नहीं चलता। हाईकोर्ट के आदेश पर तीन साल पहले इस क्षेत्र में चल रहे कोठों पर पुलिस ने ताला जड़ दिया। यहां अब देहव्यापार भले ही न होता हो लेकिन इलाके में बंद पड़े इन भवनों में कई ऐसी कहानियां कैद हैं जो इस जगह की जिल्लत भरी जिंदगी की दास्ताना बयान करती हैं। पुलिस ने जब-जब यहां कार्रवाई की तब ही वेश्यावृति का घिनौना सच सामने आता।

दूसरे प्रदेशों से लड़कियों का अपहरण कर या खरीदकर उन्हें देह व्यापार के कारोबार में झोंक दिया जाता था। पुलिस यहां से कई ऐसी ही लड़कियों को रेस्क्यू भी कराया। वहीं कई ऐसे किस्से भी सामने आए जब देह व्यापार में लिप्त महिलाओं की आपबीती सुन हर कोई हैरान रह गया।

आइए नजर डालते हैं ऐसी ही कहानियों पर जिनकी हकीकत किसी को भी रुला सकती है:

युवक ने पर्ची उठाकर खोली तो उसमें लिखा था कि भैया आज रात 8:00 बजे ग्राहक बनकर कोठे पर आना। युवक ठीक आठ बजे कोठे पर ग्राहक बनकर पहुंचा तो वहां उसकी मुलाकात सबीना से हो गई। इस दौरान सबीना ने भाई कहकर युवक को सभी बातें बता दी। साथ ही कहा कि भैया कुछ भी करो, लेकिन मुझे इस नर्क से छुटकारा दिला दो। 

एक दिन एक ग्राहक को उसने अपनी आपबीत सुनाई और बंधनमुक्त कराने की बात कही। ग्राहक ने फिर से आने का वादा कर उसे कोठे से छुड़ाने का आश्वासन दिया। कुछ दिन बाद युवक ज्यादा रकम देकर युवती को बाहर घुमाने की बात कहकर कोठे से बाहर ले आया। उसने युवती को थाने लेजाकर सारा माजरा पुलिस को समझा दिया।

एसपी क्राइम ने यह भी बताया कि युवती को इस बात से भी अनजान रखा गया था कि वह हिंदुस्तान के किसी कोठे पर है।

आइए नजर डालते हैं ऐसी ही कहानियों पर जिनकी हकीकत किसी को भी रुला सकती है:

डेढ़ साल बाद बेटी को देखकर फफक पड़ा पिता 18month after doter news live updates :
सीकर राजस्थान के उद्योग नगर थाना क्षेत्र निवासी मौसेरी दो नाबालिग बहनों का जनवरी 2017 में अपहरण कर लिया गया था। इनमें एक किशोरी दिसंबर 2017 में सीकर लौट आई थी। जिसने बताया कि पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन पर ललिता नाम की एक महिला दोनों को नौकरी लगवाने का झांसा देकर शकरपुर दिल्ली में कोठा चलाने वाले काजल नाम की महिला के पास ले गई।

यहां बड़ी बहन को 80 हजार रुपये में बेच दिया गया था, जबकि छोटी बहन को ललिता साथ ले गई थी। 2017 दिसंबर में काजल की मौत होने पर बड़ी बहन वहां से भागकर सीकर पहुंच गई। बाद में पुलिस ने काजल के घर दबिश देकर दो युवकों को पकड़ा।

आइए नजर डालते हैं ऐसी ही कहानियों पर जिनकी हकीकत किसी को भी रुला सकती है:

किशोरी के पिता ने बताया कि उन्होंने बेटी बरामद न होने पर साल 2019 में पूर्व राजस्थान हाईकोर्ट में गुहार लगाई। हाईकोर्ट की सख्ती पर राजस्थान पुलिस टीम 26 दिन तक दिल्ली में डेरा डाले रहीं। आखिरकार पूर्व आरोपी ललिता पकड़ में आ गई। उससे पूछताछ में पता चला कि दूसरी किशोरी को मेरठ में कोठा चलाने वाले दीपक को बेचा था।

इसके बाद तत्कालीन इंस्पेक्टर ब्रह्मपुरी सतीश राय के निर्देश पर पुख्ता जानकारी के बाद ईश्वरपुरी में दीपक के मकान पर दबिश देकर किशोरी को बरामद कर लिया। अपहृत किशोरी करीब डेढ़ साल बाद ब्रह्मपुरी थाने में अपने पिता से मिली। दोनों की आंखों में खुशी के आंसू थे। पिता ने बेटी को गले लगा लिया। पिता ने बताया कि उन्हें कानून पर पूरा भरोसा था।

आइए नजर डालते हैं ऐसी ही कहानियों पर जिनकी हकीकत किसी को भी रुला सकती है:

मैं टूट गई और आखिरकार समर्पण कर दिया। इस धंधे में खुद को सौंप दिया। एक दिन अनीता की जिंदगी में मनीष (बदला हुआ नाम) से मुलाकात हुई। मनीष को उससे प्यार हो गया। फिर एक दिन मनीष ने अनीता के सामने दिल की बात रख दी। अनीता को कोठे के नर्क से छुटकारा चाहिए था। अनीता ने भी मनीष से कोठे से निकलने की अपनी इच्छा जाहिर कर दी। 

 एनजीओ के संचालक अतुल शर्मा के अनुसार मनीष ने बताया कि वह कोठे पर एक लड़की से प्यार करता है और उसे निकालना चाहता है। इसके बाद अतुल शर्मा पुलिस के साथ कोठे पर पहुंचीं। वह बताती हैं कि वो लड़की का चेहरा नहीं पहचानती थीं इसलिए उन्होंने तेज आवाज में कहा, अनीता। तभी एक लड़की उठ खड़ी हुई।

ये भी पढ़ें…

देह व्यापार के लिए बदनाम कबाड़ी बाजार की बदलेगी सूरत, हाईकोर्ट ने बंद कराए थे 58 कोठे

Free laptop tablet yojana 25 मई को इन कॉलेजों में 2nd & Final Year वालों को होगा टैबलेट वितरण नोटिस जारी जल्दी देखोfree

Up free Laptop yojana कल इन यूनिवर्सिटी के 1st ईयर और 2nd ईयर के छात्रों को होगा टैबलेट स्मार्टफोन का वितरण

Bhojpuri Singer Shilpi Raj MMS Video Leak>>शिल्पी राज के साथ

UP Board Result Download

किसान कर्ज माफी की ताज़ा ख़बर, ब्रेकिंग न्यूज़ ; सरकार ने माफ किया 980 करोड़ का कर्ज

आइए नजर डालते हैं ऐसी ही कहानियों पर जिनकी हकीकत किसी को भी रुला सकती है:

 

Leave a Comment

Your email address will not be published.